SEO kya hai or SEO kaise kare

SEO Kya Hai: SEO का क्या मतलब है?

नमस्कार दोस्तों मैं आपका अपने इस ब्लॉगिंग वेबसाइट पर हार्दिक स्वागत करता हूं। दोस्तों आज मैं आपके लिए इस आर्टिकल को माध्यम से बहुत ही महत्वपूर्ण आर्टिकल लेकर आया हूं। आज हम इस आर्टिकल के माध्यम SEO Kya hai और SEO कैसे करें  के बारे में बात करेंगे और साथ में हम आपको SEO के रिलेटेड सभी जानकारी संक्षेप में आपको देंगे ।

अगर आप ब्लॉगिंग में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं। या फिर आप ब्लॉगिंग में सक्सेस होना चाहते हैं। तो आपको सबसे पहले Seo के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत ही जरूरी है। अगर आपको SEO के बारे में पूरी जानकारी है तो आपको ब्लॉगिंग में सक्सेस होने से कोई भी नहीं रोक सकता है। क्योंकि आज के टाइम में ब्लॉग या वेबसाइट बनाना तो बहुत ही आसान है। पर उस ब्लॉग या वेबसाइट में ट्रैफिक लाना बहुत ही मुश्किल है।

SEO ब्लॉगिंग का एक बहुत ही महत्वपूर्ण पार्ट है। जब तक आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रेफिक नहीं आता है। तब तक आप ब्लॉगिंग में सक्सेस नहीं हो पाएंगे। अगर आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ऑर्गेनिक ट्रैफिक लाना चाहते हैं इसके लिए आपको SEO के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत जरूरी है। क्योंकि SEO  ही मात्र एक ऐसा साधन है जिसकी मदद से आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर अनलिमिटेड ऑर्गेनिक ट्रेफिक ला सकते हैं। अगर आप WordPress में Website बना चुके हैं और उसका SEO करना चाहते हैं तो आप सही जगह आये हैं |

SEO kya hai or SEO kaise kare

ये भी पढ़ें-
1. Java Kya Hai ? इसे कैसे सिखे?
2. Incognito mode क्या है? Google Chrome में इसका इस्तेमाल कैसे करें?

इसलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से SEO Kya Hai और SEO कैसे करें  के बारे में पूरी जानकारी संक्षेप में देंगे। अगर आप Seo रिलेटेड सभी जानकारी पढ़ना चाहते हैं तो आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

SEO Kya Hai ( What is SEO in Hindi?)

SEO क्या है? आपको यह जानने से पहले SEO के फुल फॉर्म के बारे में मालूम होना बहुत ही जरूरी है। SEO का Full Form है सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ( Search Engine Optimization), SEO एक ऐसा माध्यम है जिसकी मदद से हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट को नेचुरल तरीके से गूगल के सर्च इंजन में Rank करा सकते हैं। और हम गूगल सर्च इंजन से अपने वेबसाइट पर अनलिमिटेड ट्रेफिक ला सकते हैं।

SEO का क्या उपयोग है?

अगर आप ब्लॉगिंग सीख रहे हैं। और आपने ब्लॉगिंग के लिए अपने ब्लॉग या वेबसाइट बना ली है। तो आप सबसे पहले SEO के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करें। क्योंकि आपको SEO को सीखने के लिए महीनों और सालों का समय लग सकता है। क्योंकि आपको SEO सीखने से पहले सर्च इंजन के एल्गोरिथ्म को समझना बहुत ही जरूरी है। क्योंकि गूगल का एल्गोरिथ्म हर दो-तीन महीने में चेंज होता रहता है।

यहां पर आपके लिए एक बात और क्लियर करना चाहता हूं। आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर चाहे जितने High Quality कंटेंट Publish कर ले। पर जब तक आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट का अच्छे तरीके से SEO नहीं करेंगे तब तक आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को गूगल के सर्च इंजन में रैंक नहीं करा सकते हैं। यह एक अपने आप में बहुत बड़ी सच्चाई है। इसलिए आपको SEO को सीखने के लिए बहुत अधिक मेहनत करने की जरूरत है।

आशा करता हूं कि अब आप SEO के बारे में अच्छे से समझ चुके होंगे। अब हम आपको SEO के कुछ फैक्टर के बारे में बात करेंगे। जिससे कि आप SEO के बारे में और अच्छे से समझ पाएंगे।

SEO के प्रकार

जब हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए SEO करते हैं यहां पर हम आपकी जानकारी के लिए बताना चाहते हैं कि ब्लॉग या वेबसाइट पर Seo दो तरह से किया जाता है। पहला On Page SEO और दूसरा Off Page SEO । आइए अब हम आपको On Page SEO और Off PageSEO क्या है इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार से देते हैं।

On Page SEO क्या है?

On Page SEO के अंतर्गत हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट के होम पेज या लिखे हुए कंटेंट पर पूरा काम करते हैं । जिसके अंतर्गत हमें वेबसाइट की डिजाइन वेबसाइट की लोडिंग स्पीड और इसके अलावा और भी बहुत सारे फैक्टर पर On Page SEO के अंतर्गत काम करना पड़ता है। अपने ब्लॉग या वेबसाइट को अच्छी तरह से कस्टमाइज करना ही On Page SEO कहलाता है।

अगर आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए  गूगल सर्च इंजन से ऑर्गेनिक ट्रैफिक लाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपनी वेबसाइट के On Page SEO पर अच्छी तरीके से वर्क करना जरूरी होता है। क्योंकि On Page SEO आपके वेबसाइट को  गूगल के सर्च इंजन में Rank करने में बहुत ही महत्वपूर्ण रोल निभाता है । आइए अब हम आपको बताते हैं कि On Page SEO के अंतर्गत कौन-कौन से फैक्टर को ध्यान में देखकर काम करना पड़ता है।

On Page SEO में आपको बहुत सारे फैक्टर पर वर्क करना पड़ता है जो कि इस प्रकार हैं।

  • website design
  • website speed
  • Website Structure
  • Website Favicon
  • Mobile-friendly Website
  • Use Heading Tag
  • Post-Good Length
  • Google Sitemap
  • Check Broken Links
  • SEO Friendly URL
  • Title Tag
  • Meta Description
  • Keyword Density
  • Image Alt Tag
  • URL Structure
  • Internal Links
  • HTML Page Size
  • Clear Page Cache
  • Highlight Important Keyword
  • Google Analytics
  • Social Media Button

On Page SEO के नजरिए से यह कुछ ऐसे फैक्टर है जिनको हम अपने वेबसाइट के आर्टिकल पर इन चीजों को ध्यान में रखकर काम करना पड़ता है। अगर आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के आर्टिकल को इन चीजों को अच्छी तरीके से काम करते हैं तो आपका आर्टिकल गूगल के सर्च इंजन में बहुत आसानी से रैंक हो सकता है। दोस्तों इसके अलावा हम आपको On Page SEO के बारे में एक अलग से आर्टिकल लिखकर पूरी जानकारी संक्षेप में  देंगे। जिससे कि आप On Page SEO के बारे में अच्छी तरह से समझ सके।

Off Page SEO क्या है?

जिस तरह से On Page SEO आपके वेबसाइट को गूगल के सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए एक महत्वपूर्ण रोल अदा करता है। उसी तरह से Off Page SEO आपके ब्लॉग के आर्टिकल को गूगल के सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण रोल निभाता है। Off Page SEO के अंतर्गत आपको अपने ब्लॉग या  वेबसाइट के आर्टिकल के लिए दूसरी वेबसाइट पर Backlinks बनाने पड़ते हैं।

यानी कि एक तरह से हम अगर बहुत ही सरल भाषा में समझे तो हम Off Page SEO में अपनी वेबसाइट का दूसरी वेबसाइट के माध्यम से प्रमोशन करते हैं। Off Page SEO करने के लिए हमें बहुत सारे फैक्टर का ध्यान देना होता है। Off Page SEO के माध्यम से हम अपने वेबसाइट के आर्टिकल को गूगल के सर्च इंजन में आसानी से रैंक करा सकते हैं।

आइए अब हम आपको बताते हैं कि Off Page SEO के अंतर्गत हमें किन-किन फैक्टर को ध्यान में रखकर काम करना होता है।

  • Social Networking Site
  • Social Bookmarking Site
  • Guest Posting
  • Forum Posting
  • Blog Commenting
  • Blog Directory Submission
  • Search Engine Submission
  • Classifieds Submission Site
  • Video Sharing site
  • Photo Sharing site
  • Question and Answering Site

जब आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए Off Page SEO करते हैं तो इसके लिए आपको इन सभी फैक्टर को ध्यान में रखकर काम करना पड़ता है। इसके अलावा Off Page SEO के और भी बहुत सारे फैक्टर होते हैं जिनके अंतर्गत हमें काम करना होता है। इसके लिए हम Off Page SEO के रिलेटेड एक अलग से आर्टिकल लिख देंगे। जिससे कि आप बहुत आसानी से Off Page Seo को समझ सकेंगे। और आप अपने ब्लॉग और वेबसाइट के लिए Off Page SEO आसानी से कर सकते हैं।

YouTube SEO क्या है?

 अगर आप एक यूट्यूबर हैं तो आप YouTube SEO के बारे में अवश्य जानते होंगे। फिर भी आपके जानकारी के लिए बताना चाहता हूं कि अभी भी ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिन्हें यूट्यूब SEO के बारे में जानकारी नहीं है। जिस तरह से आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट के आर्टिकल को SEO के माध्यम से गूगल के सर्च इंजन के टॉप पर लाते हैं। उसी तरह से आप अपने यूट्यूब के वीडियो को SEO माध्यम से यूट्यूब में टॉप पर ला सकते हैं।

अगर आप सिंपल तरीके से अपने यूट्यूब चैनल पर वीडियो को अपलोड करते हैं। तो आपके यूट्यूब चैनल Grow होने में बहुत अधिक समय लगता है। कहे तो आपके यूट्यूब चैनल को Grow होने में 1 साल से ऊपर का भी टाइम लग सकता है। अगर आप वहीं पर अपने यूट्यूब चैनल पर SEO करते हैं तो आप अपने यूट्यूब चैनल को बहुत ही कम समय में Grow कर सकते हैं। और आपके यूट्यूब चैनल के सभी वीडियो यूट्यूब के Search पर जल्दी से आने लगते हैं।

जिस तरह से आपको अपने वेबसाइट के SEO लिए कुछ फैक्टर का ध्यान देना होता है। उसी तरह से आपको यूट्यूब SEO के लिए कुछ फैक्टर में ध्यान देकर वर्क करना पड़ता है। यूट्यूब के कुछ बेसिक SEO फैक्टर इस प्रकार हैं ।

  • Title tag Length 50 – 60 charters
  • Meta tag 10 – 12 (to write) for good YouTube SEO
  • meta description keyword targeting and has tag
  • choosing setting, YouTube category, travel, blog, education, gaming.
  • 2 Mb size Thumbnail.

उदाहरण के तौर पर इस यूट्यूब चैनल Medic Addicted के वीडियोस देखेंगे की यह सही तरीके से SEO OPTIMIZED हैं|

दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बताना चाहता हूं कि यूट्यूब चैनल के लिए कुछ बेसिक SEO फैक्टर होते हैं। अगर आप यूट्यूब SEO के बारे में और अधिक जानकारी पाना चाहते हैं तो इसके लिए हम आपके लिए एक अलग से यूट्यूब SEO के रिलेटेड आर्टिकल लिख देंगे । जिससे कि आप बहुत ही आसानी से यूट्यूब SEO के बारे में समझ पाएंगे।

क्या हम एक सक्सेसफुल SEO एक्सपर्ट बन सकते हैं?

 दोस्तों यह एक ऐसा सवाल है जो हर एक ब्लॉगर के मन में अवश्य आता है। क्योंकि आज के टाइम में हर कोई व्यक्ति या फिर हर कोई ब्लॉगर SEO एक्सपर्ट बनना चाहता है। पर आप सभी लोगों के जानकारी के लिए बताना चाहता हूं कि आज के टाइम में SEO एक्सपर्ट बनना इतना आसान नहीं है जितना कि लोग सोचते हैं।

क्योंकि SEO एक ऐसी टेक्निक है जिसे सीखने में आपको जाने कितने साल लग सकते हैं। अगर आप यह सोच रहे हैं कि आप SEO को 5 या 6 महीने या फिर 1 साल में सीख सकते हैं यह आपकी एक बहुत बड़ी गलतफहमी है। क्योंकि गूगल की ऐसी बहुत सारी एल्गोरिथ्म है जो कि समय-समय पर चेंज होती रहती हैं। अगर आप SEO एक्सपर्ट बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपको गूगल में होने वाले एल्गोरिथ्म के बदलाव के साथ आपको भी अपडेट रहना पड़ेगा।

निष्कर्ष

दोस्तों हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से SEO kya hai और SEO कैसे करें  के बारे में पूरी जानकारी संक्षेप में दी है। और हमने पूरी कोशिश की है कि अगर आप ब्लॉगिंग में बिल्कुल न्यू है तो आप SEO के बारे में आसानी से समझ सके। हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बहुत ही आसान शब्दों में समझाया है कि SEO kya hai और Seo कैसे करें

दोस्तों आशा करता हूं कि आप इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद बहुत ही आसानी के साथ समझ गए होंगे कि SEO kya hai और हमें अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिए SEO क्यों करना जरूरी है। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तों व्हाट्सएप ग्रुप, फेसबुक ग्रुप  पर शेयर अवश्य करें धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *